कर्ज माफी : पूर्व मंत्री शिवराज सिंह ने कहा क्यों किया भाई का कर्ज माफ?

कर्ज माफी

मध्य प्रदेश में किसान कर्ज माफी का विषय दिन प्रतिदिन नया मोड़ लेते जा रहा है साथ ही कर्जमाफी को लेकर सियासत (Politics) भी तेज हो गई है. एक और विपक्षी पार्टी बीजेपी (BJP) किसानों का कर्जमाफी नहीं होने की बात कर रही है तो दूसरी तरफ कांग्रेस (Congress) कर्जमाफी को लेकर प्रूफ दे रही है और आंकड़े पेश कर दावे को पुख्ता करने की जंदोजहत में है.

कांग्रेस द्वारा पेश की गई लिस्ट में यह भी बताया जा रहा है कि शिवराज सिंह चौहान के भाई रोहित सिंह और चाचा के बेटे निरंजन सिंह का भी कर्ज माफ किया गया है. और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को यह भी हिदायद दी जा रही है कि आप बादाम, च्वनप्राश खाकर अपनी यादाश्त ठीक करें. इस बात पर शिवराज सिंह चौहान ने एक बार फिर सवाल उठाएं हैं. उन्होंने कहा कि उनके भाई रोहित सिंह ने कर्ज माफी (Debt Waiver) का आवेदन ही नहीं किया, फिर कैसे कर्ज माफ कर दिया गया. मुख्यमत्री कमलनाथ सिंह बताएं कि, यह साजिश (Conspiracy) नहीं तो क्या है?

आपको बता दें कि बुधवार के दिन ग्वालियर में हुई सभा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शिवराज सिंह चौहान के भाई रोहित सिंह और रिश्तेदार का कर्ज माफ किए जाने की बात कही थी. इसी बात को लेकर शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कांग्रेस व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) से सवाल करते हुए कहा, कि मेरे भाई रोहित सिंह चौहान द्वारा कर्जमाफी का आवेदन ही नहीं किया गया है. फिर मेरे परिवार पर इतनी मेहरबानी क्यों क्यों की जा रही है? पूर्व मुख्यमंत्री का कहना है, जिन्होंने आवेदन किया है, उनका कर्जा माफ़ नहीं किया जा रहा है. और जो आयकर दाता हैं, उनकी कर्जमाफी का दावा किया जा रहा है.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसानों की कर्ज माफी पर सवाल उठाए जा रहे हैं। जैत गांव के किसानों की एक सूची के आधार पर, शिवराज सिंह ने कहा कि रोहित सिंह चौहान ने ऋण माफी के लिए आवेदन नहीं किया है, पंचायत की सूची में इसका स्पष्ट उल्लेख है। और मेरा भाई एक आयकर दाता भी है और सरकार की नीति के अनुसार, यदि किसान एक आयकर दाता है, तो उसका कर्ज माफ नहीं किया जा सकता है। फिर उनका कर्ज क्यों माफ किया गया?

Be the first to comment on "कर्ज माफी : पूर्व मंत्री शिवराज सिंह ने कहा क्यों किया भाई का कर्ज माफ?"

Leave a Reply