प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना : जानें प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से जुड़ी 10 शर्तें

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना

लोकसभा चुनाव 2019 में भारी मतों से विजय प्राप्त करने के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अपने वादों को निभाने की और बढ़ चली है. पहली कैबिनेट बैठक में ही नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना शुरू कर दी गई है. किसान सम्मान योजना का जिक्र नरेंद्र मोदी ने चुनाव से पहले भी किया था, जिसको ध्यान में रखते हुए बीजेपी सरकार ने पहली केबिनेट मीटिंग में ही इस योजना पर मोहर लगा दी है. इस योजना के तहत किसानों को 3000 रूपये की पेंशन देने का प्रावधान है. सरकार का मानना है कि इस योजना से किसान को काफी फायदा होगा, और यह किसानों क लिए एक अमूल्य तोहफे की तरह होगी. हालाँकि इस योजना की कुछ शर्तें हैं. इन शर्तों का पालन करने के बाद ही आप इस योजना का लाभ ले सकेंगें. आइये जानते हैं प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना से जुड़ी शर्तों के बारें में.

प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना नियम और शर्त

  1. यह योजना देश भर के सभी छोटे और सीमांत किसानों के लिए ही होगी।
  2. यह एक अंशदायी योजना है, इस योजना को आप अपनी स्वेच्छा अनुसार ले सकते हैं.
  3. 18 से 40 वर्ष तक की आयु वाले किसान इस योजना के साथ जुड़ सकेंगे.
  4. पहले चरण में यह योजना करीब 5 करोड़ किसानों तक पहुंचाई जाएगी.
  5. यदि 18 वर्ष की आयु वाला किसान इस योजना का लाभ लेना चाहता है, तो उसे लगभग 55 रूपये मासिक देने होंगे।
  6. यदि 20, 25, 30 या 40 वर्ष की आयु वाला किसान इस योजना से जुड़ता है, तो मासिक शुल्क में बढ़ोतरी होगी.
  7. जितनी राशि किसान द्वारा दी जाएगी, उतनी ही राशि का योगदान केंद्र सरकार द्वारा पेंशन फण्ड में किया जाएगा.
  8. 3000 रुपये मासिक पेंशन, 60 वर्ष पूरा करने के पश्चात ही मिलेगी.
  9. यदि लाभ पाने वाले व्यक्ति की मौत हो गई, तो उसके पति अथवा पत्नी को 50% रकम मिलती रहेगी।
  10. सरकार द्वारा लागू की गई इस योजना का लक्ष्य पहले 3 सालों में कम से कम 5 करोड़ लघु और सीमांत किसानों को कवर करना है।

Be the first to comment on "प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना : जानें प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से जुड़ी 10 शर्तें"

Leave a Reply