सांसद प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयानों से बीजेपी परेशान

साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) से बीजेपी (BJP) सांसद उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Thakur) अपने अजीबोगरीब बयानों के चलते सुर्ख़ियों में हैं. उनके इन गलत बयानों के कारण भारतीय जनता पार्टी को बहुत आलोचनाएं झेलनी पद रही हैं. एवं उनके द्वारा दिए गए यह बयां बीजेपी के खिलाफ जा रहे हैं. यहाँ तक कि खुद बीजेपी पार्टी कुछ बयानों के समर्थन में नहीं है और पार्टी साध्वी प्रज्ञा की निंदा कर चुकी है.

हाल ही में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गांधी लेकर विवादित बयां दिया था. उन्होंने महात्मा गांधी जी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था. उनके इस विवादित बयां को लेकर उनकी व् बीजेपी पार्टी की काफी आलोचना भी की गई. देश में गई जगह उनके पोस्टर भी जलाए गए. आपको बता दें कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस बयां को लेकर दुःख प्रकट किया और कहा कि इस तरह के शब्दों को सुनने के बाद मै शायद ही साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को माफ़ कर पाउगा.

इसके पहले भी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने लोकसभा प्रचार के दौरान दिग्विजय सिंह को आतंकवादी कहा था. हालाँकि साध्वी प्रज्ञा खुद आतंकवादी एक्टिविटी में लिप्त रह चुकीं हैं और उनपर मालेगांव बम विस्फोट के आरोप लग चुके हैं. उन्होंने अपने एक बयान में यह भी कहा था कि अध्योध्या में राम मंदिर निर्माण आंदोलन के दौरान बाबरी मस्जिद ढांचा गिराने में शामिल होने पर उन्हें गर्व है. उनका एक अजीब बयान यह भी था कि उन्होंने मुंबई एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे को श्राप दिया था इसलिए एक माह बाद आतंकवादियों की गोलियों से उनकी मौत हो गई. उनके इस बयान के कारण उनपर 72 घंटों के लिए प्रचार न करने का प्रतिबन्ध भी लगाया गया था. हालाँकि उनके इन अजीब और विवादित बयानों का बीजेपी समर्थन नहीं कर रही है, लेकिन इससे पार्टी की छवि पर गलत प्रभाव पद रहा है.

फ़िलहाल एग्जिट पोल के अनुमान आ चुके हैं, और अब सातवीं प्रज्ञा ने सोमवार सुबह से 63 घंटे का मौन व्रत धारण किया है. साध्वी प्रज्ञा ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

उन्होंने अपने बयान को लेकर माफी भी मांगी और कहा कि यदि मेरे शब्दों से समस्त देशभक्तों को ठेस पहुंची है तो मैं क्षमा प्रार्थी हूं और प्रयश्चित हेतु 21 प्रहर के मौन के साथ कठोर तपस्या कर रही हूं.

2019 लोकसभा चुनाव एग्जिट पोल : जानें सभी समाचार चैनलों के मत अनुमान

Be the first to comment on "सांसद प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयानों से बीजेपी परेशान"

Leave a Reply